Monday, October 12, 2009

समीरलाल जी को साहित्य गौरव सम्मान : ब्लागजगत में हर्ष की लहर

congratulationsANIMATION नमस्कार , हमारे आपके सबके श्रद्धेय श्री मान समीर लाल " समीर Hin_Badhai_c-2" जी की पुस्तक बिखरे मोती का विमोचन गत ४ अक्टूबर को ४

 

                    अक्टूबर, २००९ को गुरुदेव श्री राकेश खण्डेलवाल, 2682455486_2b87e86da2_o वाशिंगटन, यू. एस.ए. के कर कमलों द्वारा गया चौहान बैन्केट हॉल, टोरंटो में समपन्न हुआ.
यह जानकारी समीर लाल जी पहले ही अपने ब्लॉग के माध्यम से दे चुके है और अज उन्होंने अपने पोस्ट  "बिखरे मोती का विमोचन एवं समीर लाल सम्मानित"sammanshivblog
पर इसकी जानकारी  दिए  तो हर एक ब्लॉगर के अन्दर से जो बातें निकल कर आयी  उसे पढ़कर पता चल रहा है कि तमाम ब्लॉगर समुदाय को समीर जी के इस उपलब्धी पर कितनी महान खुशी मिली है ,
इस मौके पर समीर लाल जी ने अपनी कविता पाठ में कुछ यु समां बांधा

चाँद गर रुसवा हो जाये तो फिर क्या होगा
रात थक कर सो जाये तो फिर क्या होगा.

 

 

                                     यूँ मैं लबों पर, मुस्कान लिए फिरता हूँ
2797507707_6d5b2dbb37_o आँख ही मेरी रो जाये तो फिर क्या होगा.

यों तो मिल कर रहता हूँ सबके साथ में
नफरत अगर कोई बो जाये तो फिर क्या होगा.

कहने मैं निकला हूँ हाल ए दिल अपना
अल्फाज़ कहीं खो जाये तो फिर क्या होगा. sammanusblog

मुझे याद है जब समीर लाल इसी साल के फरवरी महीने में घर पधारे थे और उन्होंने कुछ समय अपने गृह निवास भारत में बिताया . उसी समय उन्होंने बिखरे मोती के अन्तरीम विमोचन का जिक्र भी किया था और एक कविता भी पेश की थी .
मेरी माँ लुटेरी थी...
माँ!!
                                    तेरा
samportblogसब कुछ तो दे दिया था तुझे
विदा करते वक्त
तेरा
शादी का जोड़ा
तेरे सब जेवर
कुंकुम,मेंहदी,सिन्दूर
ओढ़नी
नई
दुल्हन की तरह
साजो
सामान के साथ
बिदा
किया था...


अब आज उनके इस विमोचन पर ब्लॉगर ने किस तरह खुशी व्यक्त की आप यहाँ पढ़ सकते है .


पंकज सुबीरmy photo ने कहा…

रपट ही बता रही है कि कार्यक्रम कितना शानदार रहा होगा । आपको बधाई बहूरानी के घर आगमन की । दीपावली का ये पर्व इस वर्ष आपके लिये खास है बहूरानी के साथ जो मनाया जाने वाला है । कार्यक्रम के फोटोग्राफ कहीं अपलोड किये हों तो उसका लिंक भेजें । बहूरानी को मेरा और रेखा का आशीष दें कि सात समंदर पार उसके बड़े भाई और भाभी वहां आ तो नहीं पाये लेकिन हमारी शुभकामनाएं नव दम्‍पति के साथ हैं । बिखरे मोती के साथ कवि समीर लाल ने भी एक सोपान तय किया है । उस हेतु पूरे शिवना परिवार की ओर से शुभकामनाएं । आदरणीय भाभीजी को प्रणाम । आशा है आप अभी भी प्राणायाम तथा प्रात: भ्रमण के नियम ठीक प्रकार से निभा रहे होंगें ।


शरद कोकास sharad jee ने कहा…

साहित्य गौरव सम्मान एवं शिवना सारस्वत सम्मान से सम्मनित होने के लिये तथा संग्रह " बिखरे मोती " के विमोचन पर हार्दिक बधाई । सबसे अच्छा यह लगा कि इस अवसर पर दादी कनकलता जी का आशिर्वाद आपको मिला । मनोषी जी, रजनी जी, शैलजा जी और अनूप जी की कवितायें पढ़कर अच्छा लगा । आप अगला संग्रह तैयार कीजिये उसका विमोचन भारत में करवायेंगे । अब जल्दी से तस्वीरें भी दिखाइये . ताकि अपनी कल्पना से हम अपने आपको उस कार्यक्रम मे शामिल देख सकें । पुन: ढेर सारी बधाई ।

दीपक "तिवारी साहब" ने कहा…

tiwari-saheb-2आपको साहित्य गौरव का सम्मान मिलना समस्त ब्लागजगत के लिये गौरव की बात है| आपने समस्त ब्लागर्स का सम्मान  बढाया है| आपका शत शत अभिनंदन और बधाईयां|

 


समीर जी आपको हमारी तरफ से भी ढेर सारी बधाई स्वीकार करे

धन्य हुआ यह जमीन आसमान , धन्य हुआ सारा जहां ,!

धन्य हुए हम आज गुरुवर , धन्य हुआ हिन्दोस्तान .!!

आपने हम सबको दीपावली का उपहार दे दिया , हमें भी अपनी खुशी में शामिल करके !! Hin_Badhai_c-5.gif

आप को शत शत प्रणाम !!



आईये आज की एक और खुशखबरी आपको सुनाते हैं। जैसा कि आप जानते हैं कि ताऊ पहेली बहुत तेजी से गोल्डन जुबिली की तरफ़ बढती जारही है। वैसे वैसे पहेली थोडी टफ़ और रोमांचक होती जारही है। आज ताऊ पहेली - ४३ के रिजल्ट ताऊ डाट इन पर घोषित किये गये हैं। अबकि बार बहुत ही मुश्किल पहेली थी जिसे जीता है सुश्री सीमा गुप्ता ने।

सुश्री सीमा गुप्ता - विजेता ताऊ पहेली - 43


बहुत बहुत बधाईयां सीमाजी को इस बार की यह पहेली जीतने के लिये।

और एक खबर ताऊ डाट इन से ही है कि रामप्यारी मैम बहुत नाराज है। उनकी क्लास के बच्चे ठीक से होमवर्क करके नही लाते तो अबकि बार रामप्यारी मैम ने गुस्से मे आकर सभी की होम वर्क की डायरी मे रिमार्क लगाया है। क्योंकि उनके सवाल का जवाब ताऊ पहेली -43 में बहुत ही कम लोगों ने सही दिया है। सारा वाकया आज की रिजल्ट पोस्ट में यहां पढे।

पंकज मिश्र

20 comments:

R S said...

congratulations to sameer

पी.सी.गोदियाल said...

वाह, अपने समीर लाल जी तो खुलेआम (छुपे हुए ) रुस्तम निकले ! मेरी तरह से समीर जी को ढेर सारी बधाइयां ! सच में, कितना सुखद अनुभव महसूस कर रहे होंगे समीर लाल जी, इस मौके पर ! ढेरो बधाईया !!!!!

seema gupta said...

आदरणीय समीर जी को एक बार फिर से हार्दिक बधाई और शुभकामनाये. रामप्यारी रानी इतना मुश्किल सवाल पूछोगी और बच्चो को रिमार्क दोगी तो कैसे काम चलेगा रानी, ओरो का तो पता नहीं मगर हमने तो इस ग्रन्थ का नाम ही पहली बार सुना, शायद हम ही इतने नालायक हैं हा हा हा हा हा हा हा हा .

regards

समयचक्र - महेंद्र मिश्र said...

समीरलाल जी को साहित्य गौरव सम्मान से सम्मानित किये जाने पर एवं बिखरे मोती के विमोचन पर बधाई शुभकामना .

'अदा' said...

Sameer ji,
hriday se aapko badhai de rahe hain aapki is anmol safalta ke liye....
ishwar aise hi aapko badi badi safltaayen deta rahe yahi kaamna hai...

हिमांशु । Himanshu said...

समीर जी को चर्चा के इस मंच से भी बधाई ।

चंदन कुमार झा said...

बहुत बहुत बधाई !!!!!!!!!!!1

M VERMA said...

बधाई -- बहुत बहुत बधाई

ताऊ रामपुरिया said...

वाह मिश्राजी , आपने बडी सुंदर और शानदार रिपोर्टिंग की है. बहुत ही मेहनतपूर्वक आप सकारात्मक चर्चा कर रहे हैं. समीरजी को मिले इस सम्मान पर हार्दिक बधाई और आपको इस रिपोर्टिंग के लिये बहुत बहुत आभार.

रामराम.

अल्पना वर्मा said...

pahali baar is charcha ko dekha hai.
bahut hi achchhee charcha karte hain.
bahut hi organised .
shubhkamanyen.
Kya yahan bhi team work hai?

लावण्यम्` ~ अन्तर्मन्` said...

Heartiest Congratulations to Sameer bhai
&
Seema ji

शिवम् मिश्रा said...

समीरलाल जी को साहित्य गौरव सम्मान से सम्मानित किये जाने पर एवं बिखरे मोती के विमोचन पर बधाई शुभकामना |

venus kesari said...

hardik badhai

venus kesari

Apoorv said...

भाई पूरा विस्तृत कवरेज दिया आपने..समारोह के ऑफ़िशियल रिपोर्टर आप ही थे क्या ;-)

डा० अमर कुमार said...


शत शत अभिनँदन, समीर भाई !

पं.डी.के.शर्मा"वत्स" said...

समीरजी को मिले इस सम्मान प्राप्ति पर हार्दिक बधाई!!!!!!

Rahul Singh said...

badhai

वाणी गीत said...

त्योहारी मौसम में बधाई ही बधाई ...आपको भी बहुत बधाई और शुभकामनायें ..!!!

अजय कुमार झा said...

वाह ये तो दिवाली का डबल बोनस हो गया...आपकी प्रस्तुति के दिलचस्प अंदाज ने इसे और भी मन मोहक बना दिया...समीर जी को बहुत बहुत बधाई और शुभकामना

Udan Tashtari said...

बधाइ एवं शुभकामनाओं के लिए आप सबका आभार. स्नेह बनाये रखिये.

पसंद आया ? तो दबाईये ना !

Followers

जाहिर निवेदन

नमस्कार , अगर आपको लगता है कि आपका चिट्ठा चर्चा में शामिल होने से छूट रहा है तो कृपया अपने चिट्ठे का नाम मुझे मेल कर दीजिये , इस पते पर hindicharcha@googlemail.com . धन्यवाद
हिन्दी ब्लॉग टिप्स के सौजन्य से

Blog Archive

ज-जंतरम

www.blogvani.com

म-मंतरम

चिट्ठाजगत