Tuesday, December 01, 2009

"ताऊ रामपुरिया की पहली और अद्यतन पोस्ट" (चर्चा हिन्दी चिट्ठों की)

अंक : 95
ज़ाल-जगत के सभी हिन्दी-चिट्ठाकारों को डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"" का सादर अभिवादन! 
आज  "चर्चा हिन्दी चिट्ठों की"  की में प्रस्तुत हैः-
ताऊ ऑफ दि ब्लॉगिंग ताऊ रामपुरिया की पहली और अद्यतन पोस्ट :
देखिए तो सही कि 
P.C. Rampuria (Mudgal) अपने बारे में क्या कहते हैं- 
Industry: Business Services  Location: Indore : M.P.अब अपने बारे में क्या कहूँ ? मूल रुप से हरियाणा का रहने वाला हूँ ! लेखन मेरा पेशा नही है ! थोडा बहुत गाँव की भाषा में सोच लेता हूँ , कुछ पुरानी और वर्त्तमान घटनाओं को अपने आतंरिक सोच की भाषा हरयाणवी में लिखने की कोशीश करता हूँ ! वैसे जिंदगी को हल्के फुल्के अंदाज मे लेने वालों से अच्छी पटती है | गम तो यो ही बहुत हैं | हंसो और हंसाओं , यही अपना ध्येय वाक्य है | हमारे यहाँ एक पान की दूकान पर तख्ती टंगी है , जिसे हम रोज देखते हैं ! उस पर लिखा है : कृपया यहाँ ज्ञान ना बांटे , यहाँ सभी ज्ञानी हैं ! बस इसे पढ़ कर हमें अपनी औकात याद आ जाती है ! और हम अपने पायजामे में ही रहते हैं ! एवं किसी को भी हमारा अमूल्य ज्ञान प्रदान नही करते हैं ! ब्लागिंग का मेरा उद्देश्य चंद उन जिंदा दिल लोगों से संवाद का एक तरीका है जिनकी याद मात्र से रोम रोम खुशी से भर जाता है ! और ऐसे लोगो की उपस्थिति मुझे ऐसी लगती है जैसे ईश्वर ही मेरे पास चल कर आ गया हो ! आप यहाँ आए , मेरे बारे में जानकारी ली ! इसके लिए मैं आपका आभारी हूँ ! 
अब जरा इन ज़नाब की अभिरुचियाँ भी देख लें- 
अपना प्रथम शौक है शरीफो और नेक लोगो को बिगाडना ! क्योंकी हम खुद पैदाइशी बिगडे हुये हैं और हमारे मास्साब और वालदेन भी हमको सुधारते सुधारते खुद सुधर चुके हैं ! और अब हमारे सुधरने की कोई उम्मीद नही बची है ! इस लिये अपनी जात बिरादरी मे बढोतरी के लिये इसको अपना मुख्य शौक बना लिया है ! और अगर आप इस गलत फहमी मे हो कि शरीफ बनने मे कुछ फायदा है तो आपको बडी गलत सलत सलाह दी गई है ! अपनी गलती सुधारे और अगर कुछ अडचन आ रही हो तो हमारी सलाह ले सकते हैं ! दुसरा शौक है-- जिन्दगी को हलके फुलके लेना | आजादी पूर्व के डाक टिकट संग्रह का पुराना शौक | अपने जीवन के आस पास की घटनाओं का चित्रण करना |और मजे में रहना ! अपने जैसा कोई मिल गया तो ठीक नही तो अकेले रहने में भी मस्ती रहती है ! फोकट टेंसन लेने में विश्वास नही है !
और  देखिए तो सही कि ये अपनी पसन्दीदा मूदीज के बारे में क्या कहते हैं-
अपनी जिंदगी की मूवी ही पसंद नही आयी तो दुसरे की क्या आयेगी ? अगर पसंद ही बताना जरुरी हो तो अब तक की पसंद मेरी अपनी गुजरी जिंदगी की मूवी ही है ! इसमे एक सफल फिल्म के सारे दृश्यों को मैने देखा है ! इससे बडी फिल्म कोइ बना भी नही सकता ! क्योंकी ये फिल्म सीधी उपर वाले की निर्देशित की हुयी है ! आपको देखना हो तो बंदे को याद कर लेना ! इस फिल्म को देखने के लिये एक सॉफ्टवेयर और DVD-PLAYER की जरुरत लगती है ! आपके पास हो तो ठीक है वर्ना आपके आग्रह पर हम यह निशुल्क उबलब्ध करवा देंगे ! इस फिल्म मे कोइ भी सीन रिपीट नही होता बल्कि एकता कपूर स्टाईल मे चलती ही रहती है ! अब भला इसके सामने ढाई घंटे की फिल्म क्या लगेगी ? 
Thursday, May 22, 2008 at 11:14 PM पर प्रकाशित 
इनकी पहली पोस्ट है-



सप्ताह अन्त की गप-शप


आज रविवार और कल सोमवार की छुट्टी का आनंद लो.... मंगलवार को फिर वही रामदयाल और वही गधेडी........कपूर साहेब किसी के शेयर आक्शन करवायेंगे ...... और पंडितजी किसी को पे आउट करवायेंगे ....... तख्तानीजी किसी को लिमिट देंगे किसी को नहीं........... और मुद्‍गल साहेब किसी की ऐसी तैसी करेंगे और कराएँगे ............... जोसेफ साहेब तो अगले हफ्ते भी भिलाई में ही आनंद लेंगे........ .........

और अब तो माथुर साहेब भी लोगों के बर्तन भांडे बिकवाने निकल पड़े है.... हम और जायसवाल साहेब ही कम पड रहे थे क्या ? पर क्या करें कोई समझता ही नहीं...... घोर कलयुग का जमाना है.......... ये आधा बैक ऑफिस पोस्ट है ... पसंद आय तो लिखे.

हाँ तो भाई कपूर साहेब और पंडितजी थम दोनु ही म्हारे इस ताऊ क्लब के प्राइमरी मेम्बर्स हो... थम दोनु को तो extra dose चाहिये ही चाहीये .... थमने इस हफ्ते का dose मिल ग्या होगा अर्र जै कसर रह्गी सै तो यो ले हरियाणवी ताऊ का extra dose..... हफ्ते भर थम दोनू राजी र-वोगे(rawoge). और चोखी तरीया हफ्ते भर काम करते र-वोगे( rawoge) तो सुनो ...................

एक बै ताइ रामकोरी बीमार हो ली अर्र ताऊ न कोइ ढंग का डॉक्टर दीख्या नहीं सो ताऊ ताई न लेके एक झोल्ला छाप डॉक्टर धोरे पहुंच लिया और उस डॉक्टर झटके न कुछ समझ आया नी सो उसने ठाके एक इंजेक्शन और उसमें 20 मिलि. petroll भर के ताई क वो ठोक दिया..

इब के हुया के ताइ तो उत ते भाज ली.... ताउ गेले लाग् रा पर ताई रुकदी ए नए.... तै ताउ चिल्लाया ...... अर्र छोरों जर्रा भाज के थारी ताइ न डाटो वो इंजेक्शन लगने के बाद रुक्क ही न रही....

इब छोरे ताइ के पाछै लाग लीये .... अर्र घनी देर बाद ताइ न लेके वापस ताउ धोरे आके बोले .... ले ताउ संभाल इब ताइ न .. यो पुरे 30 किलो मीटर दूर जाके डटी सै .........

ताउ सोच मे पड़ ग्या अर फेर बोल्या - अर भइ बालकों , देखो इब थम्हारी ताइ न्यु त बूढ़ी होली सै .... इसका chasis भी बिखर लिया... पर ये average इब बी घणा सूथरा देवे सै.... जरा सा पेट्रोल उस डॉक्टर इसमें डाल्या था भइ...... घणा तगड़ा average सै थारी ताइ का तो ...................... 20 मिलि. मे 30 किलो मीटर...................... ---------------------------------------------------------
और ये रही इनकी अद्यतन पोस्ट-

ताऊ गोल्डन जुबिली पहेली : विजेता श्री विवेक रस्तोगी

प्रिय बहनों और भाईयों, आज ताऊ गोल्डन पहेली के रिजल्ट के इस अंक मे मैं आपका हार्दिक स्वागत करता हुं. यह आपके लिये और हमारे लिये बहुत ही खुशी का मौका है. और इस खुशी के मौके तक पहुंचने मे आप सभी का अथक सहयोग और आशिर्वाद हमें मिला है.

ताऊ गोल्डन जुबिली पहेली में हमने जो सवाल पूछा था उसका सही उत्तर जहाजमहल मांडव (जिला - धार) म.प्र. है.






खेल में अगर स्वस्थ प्रधिस्पर्धा हो तो जीत हार के कोई मायने नही है. इस तरह से आज इस गोल्डन अंक में सभी विजेता हैं. यहां तक का निर्बाध सफ़र ना केवल हमारी मेहनत का फ़ल है बल्कि उससे कहीं ज्यादा ये आप सभी के सहयोग नतीजा है. जिसके लिये हम आपके तहेदिल से आभारी हैं. और मैं विशेष आभारी हुं सुश्री अल्पना वर्मा का जिनके सहयोग के बिना इसकी कल्पना भी मुश्किल थी. उन्होने इस पहेली की विषय वस्तु से लेकर निरंतरता बनाये रखने में अपना बहुमुल्य समय, सुझाव और सहयोग दिया है.

आप सभी ने इस ताऊ गोल्डन पहेली की ट्राफ़ी को बहुत सराहा है. तो अब रिजल्ट घोषित करने से पहले मैं बता दूं कि ये ट्राफ़ी टीम वर्क का नतीजा है. इसका कलर कंबीनेशन और थीम अल्पना जी ने तय किया , जिसमे बहुत सारा समय कई सप्ताह से आज के विशेष दिन के लिये उन्होनें लगाया. फ़िर इसकी सेटिंग और स्क्रिप्टिंग पर मैने काम किया और यह कच्चा घडा सौंपा गया आशीष खंडेलवाल जी को. और उनके हाथों से निकलकर यह आपके सामने है. आशीष खंडेलवाल जी का तहेदिल से आभार.




तो आज इस गोल्डन पहेली के प्रथम विजेता हैं श्री विवेक रस्तोगी……..और आज के सभी विजेताओं को यह ट्राफ़ी जल्द भेजी जारही है. बधाई सभी को.

आज के हमारे सम्माननिय विजेताओं से आपको मिलवाते हैं...
सभी को हार्दिक बधाईयां!



gold-50

  गोल्डन जुबिली विजेता विवेक रस्तोगी अंक…१०१

gold-50

गोल्डन जुबिली विजेता श्री दिनेशराय द्विवेदी अंक १००

gold-50


  गोल्डन जुबिली विजेता  श्री प्रकाश गोविंद अंक ९९

gold-50


  गोल्डन जुबिली विजेता श्री सुश्री सीमा गुप्ता अंक ९८
gold-50

  गोल्डन जुबिली विजेता  श्री मीत अंक ९७

gold-50


  गोल्डन जुबिली विजेता श्री पी.एन.सुब्रमनियन अंक ९६

gold-50

  गोल्डन जुबिली विजेता श्री नीरज गोस्वामी अंक ९५
gold-50

  गोल्डन जुबिली विजेता श्रीशोभित जैन अंक ९४
gold-50

  गोल्डन जुबिली विजेता श्री प. डी.के. शर्मा "वत्स", अंक ९३

gold-50

  गोल्डन जुबिली विजेता श्री उडनतश्तरी अंक ९२

gold-50

गोल्डन जुबिली विजेता संजय तिवारी ’संजू’ अंक ९१

gold-50

  गोल्डन जुबिली विजेता श्री सुश्री प्रेमलता पांडे अंक ९०
gold-50

  गोल्डन जुबिली विजेता श्री अविनाश वाचस्पतिअंक ८९

आज के इस गोल्डन जुबिली अंक में जिन्होने  भाग लेकर हमारा उत्साह वर्धन किया उन प्रतिभागियों के हम हृदय से आभारी हैं और यादगार स्वरूप निम्न  स्मृति चिन्ह  आपको भिजवाया जा रहा है. जिनके प्रोफ़ाईल में फ़ोटो नही है और जो स्मृति चिन्ह पर अपना फ़ोटो लगवाना चाहते हैं वो यथा शीघ्र अपना फ़ोटो हमे भिजवा दें.




आप महानुभावों के हम आभारी हैं.


ratanji-g50


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी श्री रतनसिंह शेखावत

round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी श्री अजयकुमार जी झा

round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी श्री M VERMA

round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी श्री प्रवीण त्रिवेदी

round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी श्री रंजन

round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी श्री ललित शर्मा,

round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी सुश्री निर्मला कपिला

round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी श्री काजलकुमार

round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी श्री हे प्रभु ये तेरा पथ

round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी श्री अंतर सोहिल

round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी सुश्री वंदना

round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी श्री सुशील कुमार छौक्कंर

round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी श्री हरकीरत ’हीर’

round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी श्री श्री श्री बाबा शठाधीश जी महाराज

round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी श्री डा.रुपचंद्र शाश्त्री "मयंक,
round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी श्री दिगम्बर नासवा

round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी श्री मुरारी पारीक

round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी श्री राज भाटिया

round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी श्री बबली

round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी श्री अशोक पांडे


round-gold4-8


गोल्डन जुबिली प्रतिभागी श्री महेंद्र मिश्र

आप सभी का हमारा उत्साह वर्धन करने के लिये हार्दिक आभार. और अब रामप्यारी के सवाल के जवाब के लिये आपको लिये चलते हैं रामप्यारी के पास.


हाय…गुड मोर्निंग एवरी बडी…आई एम राम..की प्यारी… रामप्यारी.

हां तो अब जिन्होने सही जवाब दिये उन सबको दिये गये हैं ३० नम्बर…अगर भूल चूक हो तो खबर कर दिजियेगा..सही कर दिये जायेंगे.

मेरे कल के सवाल का सही जवाब है अंगिरा ,अत्रि .क्रतु , मारीचि, पुलस्र्य , पुलह और वसिष्ठ नामक सप्तऋषि "चित्र शिखंडी" कहलाते है विवेक रस्तोगी अंकल, सीमा आंटी, उडनतश्तरी अंकल, प्रकाश गोविंद अंकल, हरकीरत ’हीर’ आंटी, मीत अंकल, संजय तिवारी "संजू" अंकल और प्रेमलता आंटी ने बिल्कुल सही सही जवाब दिये. आप सबके खाते में तीस तीस नम्बर मैने जमा करवा दिये हैं.

अब रामप्यारी की तरफ़ से रामराम…अगले शनीवार फ़िर से यही मिलेंगें. वैसे आजकल शाम ६ बजे मैं ताऊजी डाट काम पर रोज ही मिल जाती हूं. ..और हां आपका आज से शुरु होने वाला सप्ताह शुभ हो.

और हीरु भैया और पीरू भैया आजकल कार्पोरेशन के चुनावों मे व्यस्त हैं सो वो आज नही आये हैं..उनकी तरफ़ से मैं आपसे क्षमा मांगती हूं. चुनाव खत्म होते ही वो आपकी सेवा मे वापस उपस्थित होंगे.


अच्छा अब नमस्ते.सभी प्रतिभागियों को इस प्रतियोगिता मे हमारा उत्साह वर्धन करने के लिये हार्दिक धन्यवाद. ताऊ पहेली – 50 का आयोजन एवम संचालन ताऊ रामपुरिया और सुश्री अल्पना वर्मा ने किया. अगले शनिवार सुबह आठ बजे आपसे फ़िर मिलेंगे तब तक के लिये नमस्कार.


ताऊ गोल्डन पहेली - 50

प्रिय बहणों और भाईयों, भतिजो और भतीजियों सबको शनीवार सबेरे की घणी राम राम.

ताऊ पहेली अंक 50 में मैं ताऊ रामपुरिया, सह आयोजक सु. अल्पना वर्मा के साथ आपका हार्दिक स्वागत करता हूं. क्ल्यु हमेशा की तरह रामप्यारी के ब्लाग से मिलेंगे. रामप्यारी के ब्लाग पर पहला क्ल्यु 11:30 बजे और दुसरा 2:30 बजे मिलेगा. रामप्यारी का जवाब अलग टिपणी में देवें. तो आईये अब आज की पहेली की तरफ़ चलते हैं.


बहनों और भाईयों, नमस्कार, मैं अल्पना वर्मा आज आपको एक मिनट यहां रोकना चाहुंगी. उपरोक्त पंक्तियां आपको इसी अंदाज मे पढते हुये यह ५० वां सप्ताह आ पहुंचा है. हमारे लिये यह अत्यंत खुशी का मौका है कि बिना किसी रुकावट के इस गोल्डन जुबिली पहेली तक का सफ़ल सफ़र हमने आपके साथ तय किया है. इस पहेली के माध्यम से हम भारत के तकरीबन प्रत्येक राज्य मे घूमे हैं. आज की पहेली की तरफ़ बढने के पुर्व आईये मैं आपको वो खूबसूरत ट्राफ़ी दिखाऊँ जिसे आपको आज जीतना है.


ताऊ गोल्डन पहेली विजेता ट्राफ़ी



तो अब आईये और ताऊ गोल्डन पहेली विजेता का खिताब जीतने के लिये नीचे के चित्र को देखकर बताईये की यह कौन सी जगह है?



यह कौन सी जगह है?


ताऊ पहेली का प्रकाशन हर शनिवार सुबह आठ बजे होता आया है. ताऊ पहेली के इस गोल्डन जुबिली पहेली के जवाब देने का समय कल रविवार दोपहर १२:०० बजे तक है. इसके बाद आने वाले सही जवाबों को अधिकतम ५० अंक ही दिये जा सकेंगे

अगले शनिवार से अगली पहेली के साथ कुछ फ़ेरबदल हो सकते हैं जिनकी सूचना आपको पहेली 51 के प्रकाशन से पुर्व देदी जायेगी.



अब रामप्यारी का विशेष बोनस सवाल : - ३० अंक के लिये.



rampyari-tdc-1_thumb[2]हाय एवरी बडी..वैरी गुड मार्निंग फ़्रोम रामप्यारी.

विनम्र निवेदन : - कृपया मेरे सवाल का जवाब अलग टीपणी मे देवें. बडी मेहरवानी होगी. एक ही टिपणी मे दोनो जवाब मे से एक सही होने पर प्रकाशित नही की जा सकती और इससे आप कन्फ़्युजिया सकते हैं कि आपकी टिपणी रुकी हुई है. तो सही होगी?

रामप्यारी का गोल्डन जुबिली सवाल :-

सवाल:- वैदिक तथा पौराणिक ग्रन्थों में "चित्रशिखंडी" नाम का बहुत उल्लेख मिलता है । आपको सिर्फ ये बताना है कि निम्नलिखित में से किसके लिए इस शब्द का प्रयोग किया जाता है ?

A. अंगिरा, अत्रि, क्रतु, मारीच, पुलत्स्य, पुलह और वशिष्ठ मे से किसी के लिये

B. क्रतु, मारीच, पुलत्स्य, पुलह और वशिष्ठ के लिये

C. ऊपर A में वर्णित सप्तऋषियों के समूह के नाम के लिये

D. उपरोक्त में से किसी के लिये नहीं.


अब आप मेरे ब्लाग पर पहली हिंट की पोस्ट पढ सकते हैं 11:30 बजे और दुसरी 2:30 बजे.

अब रामप्यारी की रामराम.




इस अंक के आयोजक हैं ताऊ रामपुरिया और सु,अल्पना वर्मा




नोट : यह पहेली प्रतियोगिता पुर्णत:मनोरंजन, शिक्षा और ज्ञानवर्धन के लिये है. इसमे किसी भी तरह के नगद या अन्य तरह के पुरुस्कार नही दिये जाते हैं. सिर्फ़ सोहाद्र और उत्साह वर्धन के लिये प्रमाणपत्र एवम उपाधियां दी जाती हैं. किसी भी तरह की विवादास्पद परिस्थितियों मे आयोजकों का फ़ैसला ही अंतिम फ़ैसला होगा. एवम इस पहेली प्रतियोगिता में आयोजकों के अलावा कोई भी भाग ले सकता है.


मग्गाबाबा का चिठ्ठाश्रम
मिस.रामप्यारी का ब्लाग

नोट : – ताऊजी डाट काम  पर हर शाम 6:00 बजे नई पहेली प्रकाशित होती हैं. यहा से जाये।

अब आज्ञा दीजिए! 
कल आपकी सेवा में कुछ और चर्चाएँ लेकर उपस्थित हो जाऊँगा!

12 comments:

Udan Tashtari said...

बहुत सही!! आज तो ताऊ छा गये!!

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

बहुत खूब....!
चेले की पोस्ट पर पहला कमेंट गुरू का!

Babli said...

वाह ताऊ जी क्या बात है! बहुत खूब!

Suman said...

nice

ललित शर्मा said...

ताऊ का काम सै घणा निराला
ताई का भी सै ताऊ घणा प्यारा
ब्लागरियों का सै घणा दुलारा
ताऊ थमने राम-राम सै म्हारा

शास्त्री जी आपने गजब ढा दिया
पुरा पन्ना ताऊ पै ही ला दिया

आभार -नमस्ते

Vivek Rastogi said...

अरे वाह आज की ताऊ चर्चा बहुत अच्छी लगी।

Ratan Singh Shekhawat said...

ताऊ की पहली पोस्ट पढवाने के लिए आभार :)

Arvind Mishra said...

ताऊ तो छाऊ हैं -मतलब छत्रछाया !

रंजना [रंजू भाटिया] said...

बहुत मेहनत से की गयी है यह ताऊ चर्चा ..बढ़िया

रंजन said...

ताऊ.. ताऊ.. पर ये है कौन...

पं.डी.के.शर्मा"वत्स" said...

आज तो सब कुछ ताऊमय दिख रहा है :)

अल्पना वर्मा said...

waah! yah bhi khoob rahi!is post ko aaj hi dakh paa rahi hun.

Taau ji ki pahali post padhi..bahut khoob shuruaat rahi.
shubhkamanyen.


abhaar.

पसंद आया ? तो दबाईये ना !

Followers

जाहिर निवेदन

नमस्कार , अगर आपको लगता है कि आपका चिट्ठा चर्चा में शामिल होने से छूट रहा है तो कृपया अपने चिट्ठे का नाम मुझे मेल कर दीजिये , इस पते पर hindicharcha@googlemail.com . धन्यवाद
हिन्दी ब्लॉग टिप्स के सौजन्य से

Blog Archive

ज-जंतरम

www.blogvani.com

म-मंतरम

चिट्ठाजगत